Skip to main content

ताजा खबर

Mumbai Indians Elimination: 5 कारण जिसके वजह से मुंबई इंडियंस हुई सबसे पहले हुई IPL 2024 से एलिमिनेट?

Hardik Pandya (Image Credit- Twitter X)

5 reasons for Mumbai Indians first elimination from IPL 2024: हार्दिक पांडया (Hardik Pandya) की अगुवाई वाली मुंबई इंडियंस मौजूदा इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) सीजन में ‘प्ले-ऑफ’ की दौड़ से बाहर होने वाली पहली टीम बन गई है। इस सीजन में मुंबई का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा है और इसका टीम पर काफी असर पड़ा है। सभी विभागों में चमकने में नाकाम रही मुंबई के निराशाजनक प्रदर्शन के मुख्य कारण क्या हैं, हार्दिक पांडया के नेतृत्व में टीम क्यों सुधार नहीं कर सकी।

इस प्रदर्शन के बाद मुंबई के लिए छठा खिताब हासिल करने का इंतजार लंबा हो गया है। मुंबई ने 2019 और 2020 में चौथा और पांचवां खिताब जीता था। तब से लेकर अब तक के चार सीजन में टीम केवल एक बार प्लेऑफ में पहुंची है। पिछले साल मुंबई को ‘क्वालीफायर-2’ में गुजरात टाइटंस से हार का सामना करना पड़ा था। इस आर्टिकल में हम बात करेंगे उन 5 कारणों की जिसके वजह से मुंबई इंडियंस IPL से पहले बाहर हुई-

5 कारण जिनकी वजह से मुंबई इंडियंस सबसे पहले आईपीएल से बाहर हुई? (Here’s 5 reasons for Mumbai Indians first elimination from IPL 2024? )

5. हार्दिक पांडया की असमंजस और अनुभवहीन कप्तानी

Hardik Pandya (Photo Source: BCCI/IPL)

सीजन की शुरुआत से पहले, मुंबई ने घोषणा की कि हार्दिक पांडया टीम के कप्तान होंगे। रोहित शर्मा को कप्तानी से हटाए जाने के बाद मुंबई के फैंस नाराज थे। सीजन की शुरुआत के बाद भी फैंस ने हार्दिक आलोचना की थी।

कप्तानी को लेकर शुरू हुए विवाद के बाद से हार्दिक पांडया फैंस का विश्वास जीतने के लिए कुछ दबाव में खेलते दिखे। लेकिन इसका असर हार्दिक के प्रदर्शन पर देखने को मिला। मुंबई इंडियंस सीजन की शुरुआत से ही लड़खड़ा रही थी। गुजरात टाइटन्स जिसने आईपीएल में डेब्यू किया था उस टीम को पहले ही सीजन में ट्रॉफी और दूसरे सीजन में फाइनल ले जाने वाले हार्दिक अपनी पुरानी टीम को बतौर कप्तान स्थिर नहीं कर सके।

बैटिंग लाइन-अप में बदलाव को देखकर हार्दिक की परेशान मानसिकता का अंदाजा लगाया जा सकता है। हार्दिक ने मौजूदा सीजन के 11 मैचों में 198 रन बनाए हैं और 11 विकेट लिए हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि हार्दिक आगामी सीजन में नेतृत्व करना जारी रखेंगे या नहीं। 

4. कुमार कार्तिके, अर्जुन तेंदुलकर जैसे युवा खिलाड़ी को मौका ना देने

Rohit Sharma Arjun Tendulkar (Photo Source: Twitter)

आईपीएल 2024 का यह सीजन युवा खिलाड़ियों के नाम रहा है। एक ओर जहां हर टीमें अपने युवा खिलाड़ियों को मौका दे रहे थे वहीं, हार्दिक पांडया ने किसी भी युवा खिलाड़ियों को मौका नहीं दिया। रोहित शर्मा की कप्तानी में कुमार कार्तिके और अर्जुन तेंदुलकर को डेब्यू करना का मौका मिला था और हिटमैन ने उनपर भरोसा जताते हुए उनको मौके दिए थे।

लेकिन इस सीजन में हार्दिक पांडया की कप्तानी कोई समझ ही नहीं सका, वह टीम की प्लेइंग 11 में कोई बदलाव ही नहीं कर रहे थे भले खिलाड़ी फॉर्म में न हो। अर्जुन और कुमार कार्तिके इस सीजन कुछ धमाल मचा सकते थे लेकिन हार्दिक की कप्तानी की वजह से उन्हें पूरे सीजन अब तक बेंच पर ही बैठना पड़ा। हार्दिक युवाओं को मौका देकर टीम की गेंदबाजी को बेहतरीन बना सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

3. जसप्रीत बुमराह के गेंदबाजी क्रम से छेड़छाड़ करना 

Jasprit Bumrah (Photo Source: BCCI/IPL)

मौजूदा आईपीएल में भारतीय गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने 12 मैचों में 18 विकेट लिए हैं और वह सीजन के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। हालांकि, मुंबई की गेंदबाजी में वह धार नहीं दिखी जो दिखनी चाहिए थी। टीम पूरी तरह से बुमराह पर निर्भर नजर आ रही थी और यही टीम का पतन था।

प्लेइंग 11 में बुमराह को छोड़कर कोई भी गेंदबाज अनुभवी नहीं है। टीम में गेराल्ड कोएत्जी (13 विकेट), हार्दिक पांडया (11 विकेट) ही दस से ज्यादा विकेट लेने में कामयाब रहे। इसके बाद पीयूष चावला ने 8 विकेट लिए। अनुभव की बात करें तो टीम के पास बुमराह के अलावा कोई गेंदबाज नहीं था क्योंकि चावला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं। लेकिन इसके बाद भी हार्दिक पांडया ने उनकी गेंदबाजी क्रम में काफी बदलाव किए। 

पांडया खुद गेंद लेकर पहला ओवर डालने आ जाते थे, और डेथ ओवर में भी खुद गेंदबाजी करने लगते थे। अगर वह अच्छी गेंदबाजी करते तो समझ भी आता लेकिन वह हीरो बनने के चक्कर में बल्लेबाजों का शिकार बनते थे और खूब रन लुटाते थे। यह गलती उन्होंने इस सीजन में बार-बार की और नतीजा सबके सामने है।

2. ईशान किशन और टिम डेविड को फेल होने बाद भी मौके देना

Ishan Kishan (Photo Source: Getty Images)

हार्दिक पांडया ने अपने कप्तानी में फ्लॉप चल रहे खिलाड़ियों को सिर्फ दोस्ती के चक्कर में ज्यादा भाव दिया और साथ ही टीम की प्लेइंग 11 में भी मौका दिया। रोहित शर्मा आधे सीजन में अच्छी लय में दिखे लेकिन फिर उनका फॉर्म खराब हो गया। उसके अलावा मुंबई के अन्य बल्लेबाज भी इस सीजन में पर्याप्त योगदान नहीं दे पाए हैं।

12 मैचों के बाद भी कोई भी बल्लेबाज 400 रन का आंकड़ा पार करने में नाकाम रहा। मुंबई के लिए तिलक वर्मा ने 42.66 की औसत से 384 रन बनाए हैं। उन्होंने इस बीच तीन अर्धशतक लगाए। चोट से उबरने के बाद देर से मुंबई टीम में शामिल हुए सूर्यकुमार यादव ने शानदार अंदाज में टीम के लिए रन बनाए। उन्होंने 9 मैचों में 334 रन बनाए। इसमें एक शतक और तीन अर्धशतक शामिल हैं।

लेकिन बात करते हैं ईशान किशन और टिम डेविड की। यह दोनों खिलाड़ियों से टीम को बेहद ही उम्मीद थी लेकिन ये पूरे सीजन में फ्लॉप रहे। ईशान किशन ने 12 मैचों में 266 रन बनाए और टिम डेविड ने 12 मैचों में 241 रन बनाए। दोनों ने इस सीजन में अपने प्रदर्शन में कोई सुधार नहीं किया। इनके खराब फॉर्म को देखकर दूसरे खिलाड़ियों को मौका दिया जाना चाहिए था लेकिन हार्दिक ने दोनों के लिए काफी फेवर दिखाया। इन दोनों को बार-बार मौके दिए गए जो दर्शाता है की हार्दिक को बतौर कप्तान बहुत सी चीजें सिखनी हैं। 

1. देसी से ज्यादा विदेशी खिलाड़ियों पर ही भरोसा जताना

Nuwan Thusara (Pic Source-X)

आईपीएल की शुरुआत ही इसलिए की गई थी जिसके वजह से भारत के युवा खिलाड़ी लाइमलाइट में आए और उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिले। लेकिन हार्दिक पांडया को इस सीजन में भारत के खिलाड़ियों से कुछ ज्यादा ही परेशानी थी।

प्लेइंग 11 में अगर किसी को रिप्लेस भी किया जा रहा है तो हार्दिक विदेशी खिलाड़ियों को ही मौका देते हैं। मुंबई में अच्छे गेंदबाज होने के बावजूद भी हाल ही के मैचों में आपलोग देख सकते हैं की श्रीलंका के नुवान थुशारा को प्लेइंग 11 में डाला गया। उसके बाद ल्यूक वुड और रोमारियो शेफर्ड जैसे खिलाड़ी भी लिस्ट में हैं जिन्हें मौका दिया गया।

लेकिन अर्जुन तेंदुलकर, आकाश मधवाल, नेहाल वढेरा जैसे खिलाड़ी बस मौके का इंतजार करते रह गए और उधर हार्दिक बस विदेशी खिलाड़ियों को मौके पर मौके दिए जा रहे थे।

আরো ताजा खबर

IPL 2024: विराट कोहली की बादशाहत Orange Cap की सूची में बरकरार, जानें किस गेंदबाज के सिर पर है Purple Cap..?

Virat Kohli (Photo Source: BCCI/IPL) IPL 2024 Orange and Purple Cap Update: आईपीएल 2024 का एलिमिनेटर मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला गया। राजस्थान...

IPL 2024: इस बार भी RCB के कप जीतने का सपना टूटा, RR ने जीत दर्ज कर क्वालीफायर 2 में अपनी जगह पक्की की

Rajasthan Royals (Pic Source-X)आज यानी 22 मई को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए एलिमिनेटर मैच में राजस्थान रॉयल्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 4 विकेट से हराया।...

IPL 2024: एक नजर डालिए RR vs RCB एलिमिनेटर मुकाबले के टॉप-10 फनी मीम्स पर

RR vs RCB (Photo Source: BCCI/IPL)इंडियन प्रीमियर लीग 2024 के एलिमिनेटर मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स ने बेंगलुरु को 4 विकेट से हराकर क्वालीफायर 2 में जगह बनाई, जहां 24 मई...

IPL 2024: रियान पराग की महत्वपूर्ण पारी रही RR vs RCB मैच का टर्निंग पॉइंट

Riyan Parag (Pic Source-X)आज यानी 22 मई को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए एलिमिनेटर मैच में राजस्थान रॉयल्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 4 विकेट से हराया।...